जब देश में लगी थी इमरजेंसी तो चोरी—छिपे यह कर रहे थे मोदी!

*😵जब देश में लगी थी इमरजेंसी तो चोरी—छिपे यह कर रहे थे मोदी!😲*पीएम मोदी की देश में लगी इमरजेंसी के वक्त से जुडी हुई बहुत सी यादें हैं. वे इन यादों को अपनी सबसे कड़वी यादों में गिनते हैं. आज उन्होंने इमरजेंसी के दिन को काला दिवस बताया है. इससे जाहिर है कि उस दौर को वे आज तक भूल नहीं पाए हैं.पर क्या आप जानते हैं कि जब देश में इमरजेंसी लगी थी तब हमारे प्रधानमंत्री क्या कर रहे थे? पीएम मोदी ने खुद कई बार अपने भाषणों में आपातकाल के दौर का जिक्र किया है और इसकी आलोचना की है. उन्होंने उस दौर की यादों को वेबसाइट narendramodi.in पर शेयर किया है.उन्होंने बताया है कि उस दौरान आरएसएस पूरी तरह से सक्रिय था और अंडरग्राउंड रहकर काम कर रहा था. पीएम मोदी भी संघ का हिस्सा थे और वे आंदोलन, सम्मेलनों, बैठकों, साहित्य का वितरण करने जैसे काम सम्हाल रहे थे.उन दिनों मोदी नाथा लाल जागडा के साथ-साथ वसंत गजेंद्र गाडकर के साथ सक्रिय रूप से काम कर रहे थे. चूंकि उस वक्त आरएसएस पर बैन लगा था इसलिए वे अपनी पहचान छिपाकर काम करते थे. जब वरिष्ठ आरएसएस नेता केशव राव देशमुख को गुजरात में गिरफ्तार कर लिया गया तो मोदी योजना के अनुसार उसके साथ काम करने वाले थे लेकिन फिर देशमुख की गिरफ्तारी की वजह से ऐसा नहीं हो सका. लेकिन मोदी ने तभी आरएसएस के अन्य वरिष्ठ व्यक्ति नाथा लाल जागडा को उन्होंने एक स्कूटर पर ले जा कर सुरक्षित जगह पर पहुंचा दिया.मोदी अक्सर पंजाबी लुक लेकर जेल जाते थे और बाहर होने वाली घटनाओं के बारे में जेल में बंद नेताओं को बताते थे. हालांकि उन्हें गिरफ्तारी का खतरा बना रहता था पर उन्होंने बिना किसी डर के यह काम किया.

About Aman kumar

मेरा नाम अमन कुमार है और मैं ब्लॉगिंग करता हूं स्टोरी लिखता हूं और न्यूज पोस्ट करता हूं यहां पर आपके लिए सभी तरह की न्यूज़ ले करके आता हूं मैं और आपको अच्छे-अच्छे गैजेट के बारे में नॉलेज दूंगा और इस टाइम में एप्लीकेशन पर और वेबसाइट पर काम कर रहा हूं

View all posts by Aman kumar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *